गुर्दे की पथरी के घरेलू उपाय

March 20, 2015


गुर्दे की पथरी के घरेलू उपचार –

  • पथरी के रोगी को प्रतिदिन कम से कम 10-12 गिलास पानी पीना चाहिए। अधिक पानी पीने से अधिक मात्रा में मूत्र बनता है। जिससे छोटी पथरी मूत्र के साथ निकल जाती है।
  • अजवाइन का नियमित सेवन विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करता है जो गुर्दे में पथरी के बनने का कारण है।
  • रोजाना सुबह में एक चम्मच तुलसी के पत्ते के रस को एक चम्मच शहद में मिलाकर खाने से पथरी निकल जाती है। आप 2-3 तुलसी के पत्ते चबाकर खा भी सकते हैं।
  • नारियल का पानी पीने से पथरी में बहुत फायदा होता है।
  • तरबूज में मौजूद पानी और पोटेशियम गुर्दे के लिए काफी फायदेमंद होता है। प्रतिदिन तरबूज खाने या उसका रस पीने से गुर्दे की पथरी बाहर निकल जाती है।
  • नींबू का रस और जैतून के तेल को बराबर मात्रा (चौथाई कप) में मिलाकर दिन में 2-3 बार तीन दिन तक पीये। इस मिश्रण के पीने के बाद भरपूर मात्रा में पानी पीयें। इससे गुर्दे की पथरी टूटकर बाहर निकल जाती है।
  • अनार के बीज और रस गुर्दे की पथरी के लिए एक प्राकृतिक उपचार माना जा सकता है।
  • नियमित रूप से सेब खाने से गुर्दे की पथरी बढ़ने की संभावना कम होती है।
  • शलगम, चॉकलेट, कॉफी, चाय, मेवे, मूँगफली, पालक, स्ट्रॉबेरीज आदि का उपयोग कम से कम करना चाहिए।
  • पेन किलर दवाइयां चिकित्सक के सलाह के बिना नहीं लें, क्योंकि इनका सीधा प्रभाव गुर्दे और लिवर पर होता है।

श्रेणि: स्वास्थ्य (Health)

कमेंट लिखें

Back to Top