घोड़े पर निबंध

June 12, 2016


घोड़ा चार पैरों वाला एक पालतू जानवर है। घोड़ा काफी मजबूत होता है और यह काफी तेजी से दौड़ सकता है। घोड़ा हम सभी लोगों के लिए काफी उपयोगी जानवर है। अभी भी घोड़े का इस्तेमाल बहुत सारे लोग सामान ढोने और सवारी करने में करते हैं। घोड़े की टांगें काफी मजबूत होती है और वह काफी वजन उठा सकता है। वह अपने ऊपर सवारी को बैठाकर काफी लंबी दूरी कम समय में तय कर सकता है। घोड़ा आदमी के द्वारा आसानी से प्रशिक्षित किया जा सकता है और आदमी उसे अपने मन मुताबिक काम में ले सकते हैं।

घोड़े कई रंगों में पाए जाते हैं। ज्यादातर घोड़े भूरे रंग के मिलते हैं। घोड़े का शरीर काफी चमकदार और मजबूत होता है। घोड़े की गर्दन लंबी होती है और उसके गर्दन के ऊपर बहुत सुंदर और सलीके से बाल बने होते हैं। घोड़ा गाड़ी में चढ़ने में बहुत सारे लोगों को खास करके बच्चों को बहुत मजा आता है।

पुराने जमाने में जब यातायात के साधन सीमित थे, तो उस समय घोड़ा लंबी दूरी तय करने के लिए एक मात्र साधन था। पुराने जमाने में घोड़े का इस्तेमाल युद्ध करने में भी किया जाता था। आजकल सर्कस में भी घोड़े का करतब दिखाया जाता है। सेना में अभी भी घुड़सवारी सिखाई जाती है। बहुत सारे लोग घुड़सवारी सीखते हैं और उसका आनंद उठाते हैं। घोड़ा एक शाकाहारी जानवर है। घोड़ा चना और घास खाना ज्यादा पसंद करता है। सभी लोगों को खासकर के बच्चों को एक बार तो घोड़े की सवारी जरूर करनी चाहिए।

(word count: 250)

श्रेणि: हिन्दी निबंध (Essay in Hindi)

कमेंट लिखें

Back to Top