सौर ऊर्जा (सोलर एनर्जी) के महत्व पर निबंध

January 6, 2017


सौर ऊर्जा हमारे वातावरण को प्रदूषण से बचाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। आजकल दुनिया में ऊर्जा की आवश्यकता के लिए बड़े पैमाने पर बिजली बनाया जाता है। बिजली बनाने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल कोयले से चलने वाले थर्मल पावर प्लांट का किया जाता है। थर्मल पावर प्लांट में काफी मात्रा में कोयले जलाने से काफी ज्यादा प्रदूषण फैलता है। कोयला जलाने से वातावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। वातावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड बढ़ने से वातावरण का तापमान बढ़ता है और वातावरण का तापमान बढ़ने से ध्रुवीय क्षेत्रों के बर्फ के पिघलने का खतरा बढ़ता जा रहा है। इससे समुंद्र का स्तर बढ़ सकता है जिससे कई तटीय इलाके डूब सकते हैं। अगर इन सब खतरों से बचना है तो बिजली बनाने के लिए सौर ऊर्जा का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए।

सौर ऊर्जा पैदा करने में किसी तरह का प्रदूषण नहीं होता है और वातावरण पूरी तरह सुरक्षित रहता है। सोलर सेल एक बार लगा देने पर उसे किसी तरह के इंधन की जरूरत नहीं होती। सूर्य की किरणें जो मुफ्त में उपलब्ध रहती हैं उसी की सहायता से बिजली बनाया जाता है। इस तरह एक बार सोलर सेल लगा देने के बाद बिना खर्च के बिजली मिलती रहती है।  हालांकि अभी सोलर सेल की कीमत ज्यादा है। लेकिन समय के साथ-साथ सोलर सेल की कीमत गिरती जा रही है और सोलर सेल लगाने में सरकार भी आर्थिक सहायता देती है। गांव में जहां बिजली पहुंचना मुश्किल हो रहा है वहां सोलर सेल का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए ताकि लोगों को मुफ्त में बिजली मिल सके। लोगों में सौर ऊर्जा के प्रति जागरूकता बढ़ानी चाहिए तभी हमारा वातावरण सुरक्षित रह सकता है।

(word count: 275)

श्रेणि: हिन्दी निबंध (Essay in Hindi)

Comments (7)

  1. Saloni says:

    Nice

  2. Rupanzel says:

    Super information .Very useful…. 😊👍👍👍👍

  3. Rupanzel says:

    Super…. Very useful 😊👍👍👍👌

  4. Gopu says:

    Very useful… Super.. 😊👍👍👍👌👌👌

  5. Ayushka says:

    Very superb !beautiful !

  6. Anonymous says:

    nice 👍👍

  7. Veda says:

    Ossam yaaaaaaaaaaa

कमेंट लिखें

Back to Top