इनकम टैक्स रिटर्न क्या है और क्यों जरूरी है इसे भरना

July 4, 2016


इनकम टैक्स रिटर्न का सही मतलब यह है कि आप अपने इनकम टैक्स रिटर्न से सरकार को यह बताना चाहते हैं कि आपने पिछले वित्तीय साल में कितना कमाया है। बहुत लोगों को इनकम टैक्स रिटर्न का सही मतलब पता नहीं रहता है। सभी लोगों को यह जानना चाहिए कि इनकम टैक्स रिटर्न भरने का मतलब यह नहीं है कि आपको टैक्स जमा करना जरूरी है। भारत के सभी लोगों को, अगर वह कमाई कर रहे है तो अपनी कमाई का कुछ प्रतिशत टैक्स देना पड़ता है। यह सभी लोगों का दायित्व है और अगर वह ऐसा नहीं करता है तो वह अपराधी माना जाता है। अभी इनकम टैक्स में यह प्रावधान है कि अगर किसी आदमी की 1 साल की कमाई ढाई लाख से कम है तो उसे कोई टैक्स नहीं देना पड़ेगा। अगर उस आदमी की 1 साल की कमाई ढाई लाख से 5 लाख के बीच हो तो उसे ढाई लाख से जितनी ज्यादा कमाई होगी, उस पर 10% की दर से टैक्स सरकार को जमा करना पड़ेगा। जैसे-जैसे इनकम बढ़ता जाता है वैसे-वैसे टैक्स की दर भी बढ़ती जाती है। अगर कोई व्यक्ति किसी भी काम से जैसे बिज़नेस वगैरह से पैसे कमा रहा हो तब भी उसे टैक्स देना पड़ेगा। अगर कोई व्यक्ति जो पैसे कमा रहा हो और वह टैक्स नहीं दिया हो तो उसकी सारी कमाई काली कमाई के नाम से जानी जाएगी और भारत में काली कमाई रखना जुर्म है। अगर आप कितनी भी मेहनत से क्यों ना कमाई कर रहे हो आपको टैक्स देना अनिवार्य है। अगर आपकी कमाई बहुत ज्यादा है तो आपको सरकार को टैक्स साल में एक बार की जगह तीन बार देने पड़ते हैं, वह भी उसी साल जिस साल कमाई होती है। आप सरकार के अकाउंट में सीधा-सीधा अपने बैंक से पैसे ट्रांसफर टैक्स के रूप में कर सकते हैं।

इनकम टैक्स रिटर्न में आपको यह बताना पड़ता है कि आपने पिछले वित्तीय वर्ष में कितना कमाया है और अगर उस कमाई पर टैक्स बनता है तो आपने कितना टैक्स जमा किया है। इनकम टैक्स रिटर्न भरने पर ही आप की कमाई को काला धन नहीं माना जाएगा। चाहे आपने टैक्स दिया हो या ना दिया हो आपको इनकम टैक्स रिटर्न तो भरना ही पड़ेगा, सरकार तभी समझेगी कि आप अपनी कमाई का हिसाब दे रहे हैं और यह बता रहे हैं कि आपने उस कमाई का टैक्स दिया है। भारत में लगभग चार करोड़ लोग इनकम टैक्स देते हैं और उनसे भी ज्यादा लोग इनकम टैक्स रिटर्न भरते हैं। बिना इनकम टैक्स दिए भी लोग इनकम टैक्स रिटर्न भरते हैं। जिनकी कमाई एक वित्तीय वर्ष में ढाई लाख से कम है उन्हें कुछ भी टैक्स देने की जरूरत नहीं है, फिर भी उसे अपनी कमाई के बारे में बताने के लिए ही इनकम टैक्स रिटर्न तो भरना ही पड़ेगा।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने का फायदा यह है कि आप के अकाउंट में जितने भी पैसे हैं वह सफेद धन है, इसके लिए सरकार आपको कभी भी तंग नहीं करेगी और आप इनकम टैक्स रिटर्न का उपयोग कई सारे लोन लेने के लिए भी कर सकते हैं।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए आपके पास पैन कार्ड का होना जरुरी है। आप इनकम टैक्स इस वेबसाइट पर भर सकतें हैं – http://incometaxindiaefiling.gov.in/

श्रेणि: रुपया पैसा (Money)

Comments (2)

  1. Abdul raheem says:

    Thank you
    Batane k liye

  2. pravin patil says:

    Bahut hi achi malumat h ITR ke bare me..

कमेंट लिखें

Back to Top