भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पर निबंध

January 6, 2017


भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा हैं। राष्ट्रीय ध्वज का हमारे देश के लोगों में एकता बनाए रखने के लिए काफी महत्वपूर्ण स्थान है। भारत का राष्ट्रीय ध्वज तीन रंगों की पट्टियों से बना हुआ है और इन तीनों रंगो का अलग-अलग महत्व है। हमारे तिरंगे का सबसे पहला रंग केसरिया है जो हमारी बहादुरी और शक्ति का प्रतीक है। दूसरा रंग सफेद है जो शांति और सत्य का प्रतीक है। तिरंगे का तीसरा रंग हरा है जो उर्वरता और जमीन की पवित्रता का प्रतीक है। हमारे झंडे के बीच में गहरे नीले रंग का चक्र भी है जिसे अशोक चक्र कहते हैं। इस चक्र में 24 तीलियां है।

झंडे को खादी वस्त्र से ही बनाया जाता है और झंडे में अलग-अलग रंगों की पट्टियों का माप कुछ निश्चित आयाम में ही होने चाहिए। सभी लोगों को तिरंगे का हमेशा सम्मान करना चाहिए। उन्हें नियम के अनुरूप फहराना और नियम के अनुरूप झंडे का इस्तेमाल करना चाहिए। झंडे का हमेशा सम्मान करना चाहिए, यह देश को सम्मान करना दर्शाता है। इसी तिरंगे ने भारत की आजादी के लिए लोगों को एक दूसरे से जोड़ा और राष्ट्रीय एकता को मजबूती प्रदान किया। जिससे भारत के लोग अंग्रेजों से अच्छी तरह मुकाबला कर पाए और भारत को आजादी दिला पाए।

(word count:200)

श्रेणि: हिन्दी निबंध (Essay in Hindi)

Comments (1)

  1. Anonymous says:

    Accha hai

कमेंट लिखें

Back to Top