महात्मा गांधी जी पर निबंध

June 11, 2016


महात्मा गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था और उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 में गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। महात्मा गांधी ने भारत को आजाद करने के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी। गांधीजी ने बचपन में अपने गांव में शिक्षा हासिल की और फिर वह लंदन जाकर वकालत की पढ़ाई की। वकालत की पढ़ाई पूरी करने के बाद वह वापस भारत में आकर वकालत करने लगे।

वकालत के क्रम में उन्हें साउथ अफ्रीका जाना पड़ा। वहीं पर उन्हें अंग्रेजों की रंगभेद नीति का सामना करना पड़ा। फिर साउथ अफ्रीका में ही उन्होंने वहां बस रहे भारतीयों के लिए काफी संघर्ष किया और उन्हें वापस से सम्मान भी दिलाया।

साउथ अफ्रीका से इंडिया 1915 में वापस आए और आते ही वह गरीब लोगों खासकर के किसान, मजदूर और हरिजन के विरुद्ध हो रहे अन्याय के खिलाफ संघर्ष करना शुरू कर दिया। उन्होंने पूरे भारत में गरीबी को हटाने के लिए, महिलाओं के अधिकार के लिए और धार्मिक सहिष्णुता बढ़ाने के लिए काफी काम किया। उन्होंने दलितों और पिछड़ों को हक दिलाने के लिए काफी संघर्ष किया। उन्होंने स्वच्छता के लिए भी आंदोलन किया।

महात्मा गाँधी जी का सबसे महत्वपूर्ण योगदान आजादी के लिए संघर्ष करना था। उन्होंने भारत को आजादी दिलाने के लिए जी जान से मेहनत किया। बहुत सारे लोगों को इस संघर्ष से जोड़ा और बहुत सारे नेताओं को आपस में जोड़ा। इसी एकता के बल पर भारत आजाद हो पाया। गांधीजी ने कई आंदोलन चलाए जैसे नमक सत्याग्रह जो कि 1930 में हुआ था, भारत छोड़ो आंदोलन जो 1942 में हुआ था। इन सब आंदोलनों के कारण अंग्रेज की पकड़ भारत में काफी कमजोर हो गई और अंततः उन्हें भारत को मुक्त करना पड़ा। गांधीजी लोगों में काफी लोकप्रिय थे और लोग उन्हें बापू कहा करते थे।

(word count: 290)

श्रेणि: हिन्दी निबंध (Essay in Hindi)

Comments (1)

  1. Reena says:

    Very nice I like it

    Good

कमेंट लिखें

Back to Top