गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षण

माँ बनना महिलाओं के लिए एक गौरव की बात है। यह माना जाता है कि माँ बनने के बाद ही महिलाए पूर्ण होती है। लेकिन पहली बार गर्भधारण करने वाली महिलाए प्रारंभिक समय में गर्भधारण के लक्षणों को समझ नही पाती है। जिसके कारण महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी समस्‍याओं के होने का खतरा बढ़ जाता है। इस समस्या को दूर करने के लिए गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षणों का जानना बहुत जरूरी है।

गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षण –

  • एक स्वस्थ महिला प्रत्येक माह माहवारी होती है। लेकिन गर्भधारण करने के बाद माहवारी आना बंद हो जाता है।
  • गर्भावस्था के दौरान स्तन दर्द होने लगता है और स्तन कोमल हो जाता है।
  • गर्भावस्था के शुरूआती लक्षण में सिर दर्द, कमर दर्द, पीठ दर्द इत्यादि होने लगता है।
  • उल्टी होना, जी मिचलाना, चक्कर आना और बार-बार पेशाब का होना भी गर्भावस्था के प्रारंभिक लक्षण है।
  • कब्ज होना, थकान महसूस होना, तनाव महसूस होना, गंध आना और मुँह का स्वाद बदलना गर्भावस्था के लक्षण है।
  • गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के स्वभाव में लगातार बदलाव होता है।
  • गर्भवती  महिलाओं के निप्पल के चारो तरफ का skin काला हो जाता है।
  • गर्भावस्था में रक्तचाप का घटना-बढ़ना और एड़ियो में सूजन भी गर्भावस्था के संकेत है।

Leave a Reply