टाइफाइड बुखार के घरेलू उपचार

टाइफाइड एक खतरनाक रोग है। यह साल्मोनेला टाइफी बैक्टीरिया से संक्रमण के कारण होता है। टाइफाइड के प्रारंभिक लक्षण बुखार, सिर दर्द, कमजोरी और पेट दर्द है। टाइफाइड के उपचार में देर होने पर रोगी को तेज बुखार, गंभीर दस्त, उल्टी, कब्ज, भूख न लगना और त्वचा पर चकत्ते जैसे लक्षण हो सकते है। टाइफाइड के उपचार के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें। आप घरेलू उपचार का उपयोग कर टाइफाइड के लक्षणों को कम कर सकते है। आइये जाने टाइफाइड बुखार के लिए घरेलू नुस्खे

टाइफाइड बुखार के घरेलू उपाय –

  • टाइफाइड में तेज बुखार और दस्त के कारण निर्जलीकरण हो सकता है। इसे रोकने के लिए आपको अधिक-से-अधिक तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए। प्रतिदिन 8 से 10 गिलास पानी पीयें। पानी के साथ-साथ आप नारियल पानी, हर्बल चाय, ताजा फलों के रस, सूप और ग्लूकोज पानी पीयें।
  • तुलसी में मौजूद एंटीबायोटिक और एंटी बैक्टीरियल गुण बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। 5 से 7 तुलसी के पत्तों से रस निकाल लें और इसमें एक चुटकी काली मिर्च मिलाकर दिन में दो से तीन बार सेवन करें।
  • टाइफाइड बुखार के लक्षणों को दूर करने के लिए कई हफ्तों के लिए खाली पेट लहसुन की 2 कली सेवन करें।
  • लौंग टाइफाइड बुखार के इलाज के लिए एक कारगर उपाय है। आठ कप पानी में 5-7 लौंग डालें और पानी आधे होने तक इसे उबालें। फिर ठंडा होने पर दिन में 4-5 बार पीयें। कम से कम 1 सप्ताह के लिए इस हर्बल उपचार का उपयोग करें।
  • एप्पल साइडर सिरका टाइफाइड बुखार के लिए अच्छा घरेलू उपचार में से एक है। एक गिलास पानी में आधा चम्मच एप्पल साइडर सिरका और थोड़ा सा शहद मिलाएं। खाना खाने से पहले इस मिश्रण का सेवन करें।
  • आधा कप दही में दो पके हुए केले और एक चम्मच शहद मिलाकर हर दिन कम से कम दो बार सेवन करें।
  • आधा कप नारियल पानी में 3-4 पुदीना के पत्ते को पीस लें और इस पेस्ट का दो से तीन चम्मच दिन में 2-3 बार सेवन करें।
  • एक कप छाछ में दो चम्मच धनिया पत्ता का रस मिलाकर कम से कम एक सप्ताह के लिए हर दिन दो बार पीयें।
  • एक गिलास सेब के रस में एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर पीयें। यह टाइफाइड बुखार में बहुत उपयोगी होता है।
  • चाय, शराब, कैफीनयुक्त पेय पदार्थ, कार्बोनेटेड पेय और मसालेदार भोजन का सेवन ना करें।
  • अगर दस्त हो रहा हो तो दूध और डेयरी उत्पादों का सेवन ना करें।

Leave a Reply