उच्च रक्तचाप के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार

उच्च रक्तचाप को हाइपरटेंशन भी कहा जाता है। आजकल बहुत सारे लोगों को उच्च रक्तचाप की समस्या होती है। हाई ब्लड प्रेशर के कारण दिल का दौरा, स्ट्रोक और गुर्दे की बीमारी हो सकती है।

उच्च रक्तचाप (हाइपरटेंशन) होने के कई कारण हो सकते है। जिसमें कुछ सामान्य कारण मोटापा, नमक का अत्यधिक सेवन, मानसिक या शारीरिक तनाव, अधिक शराब का सेवन, धूम्रपान, आनुवांशिक (जेनेटिक), शारीरिक श्रम का अभाव, गर्भनिरोधक गोलियां, गुर्दे की बीमारी, मधुमेह, थायराइड रोग और पेन किलर है।

उच्च रक्तचाप के लक्षण –

  • सिरदर्द
  • चक्कर आना
  • सांस की तकलीफ
  • धुंधली दृष्टि
  • उल्टी
  • मतली
  • सीने में दर्द

उच्च रक्तचाप के घरेलू उपाय –

  • केला रक्तचाप के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक उपाय है। उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखने के लिए रोजाना एक या दो केला खाना चाहिए।
  • अजवाइन उच्च रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। रोजाना एक गिलास पानी के साथ अजवाइन खा सकते है।
  • प्याज का रस उच्च रक्तचाप के स्तर को कम करने के लिए एक कारगर उपाय है।आधा चम्मच प्याज के रस में आधा चम्मच शहद मिला लें और इस मिश्रण को दिन में दो बार सेवन करें।
  • लहसुन उच्च रक्तचाप के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। प्रतिदिन कच्चे लहसुन का एक या दो कली खाना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को अपने खाने में कम नमक का प्रयोग करना चाहिए।
  • अदरक, जीरा पाउडर और शहद को एक समान मात्रा में ले लें और उन्हें अच्छी तरह मिलाकर दिन में दो बार सेवन करें।
  • एक चम्मच आंवला के रस में एक चम्मच शहद मिला लें और इस मिश्रण को रोज सुबह में नाश्ते से पहले सेवन करें।
  • हाई ब्लड प्रेशर में नारियल पानी पीना भी बहुत फायदेमंद होता है।
  • तरबूज भी उच्च रक्तचाप के लिए एक अच्छा उपाय हैं। हर सुबह खाली पेट में तरबूज खाना चाहिए।
  • मेथी का बीज हाई ब्लड प्रेशर के स्तर को कम करने में मदद करता है। दो चम्मच मेथी के बीज को गर्म पानी में कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद मेथी के बीज को छानकर उसका पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को रोजाना सुबह और शाम में खाली पेट सेवन करें।

Leave a Reply