ऑनलाइन ट्रेन टिकट बुकिंग कैसे करें (Online train ticket)

अब आपको ट्रेन का टिकट बुक करने के लिए स्टेशन जाने की जरूरत नहीं हैं। अगर आपके पास डेबिट कार्ड (एटीएम कार्ड), क्रेडिट कार्ड या इन्टरनेट बैंकिंग अकाउंट हैं तो आप घर बैठे इन्टरनेट के द्वारा अपने पसंदीदा सीट का रिजर्वेशन कर सकते हैं।

टिकट रिजर्वेशन के लिए सबसे पहले irctc.co.in पर एक नया अकाउंट बनाएं, उसमें अपना मोबाइल नंबर और पता सही-सही लिखें और अपना यूजर नेम और पासवर्ड हमेशा याद रखें। सुबह 8 बजे से 11 बजे तक आप नया यूजर अकाउंट नहीं बना सकते हैं।

टिकट बुक करने के लिए आप irctc.co.in पर लॉग इन करें और स्टेशन का नाम, तारीख, टिकट का कोटा (सामान्य, तत्काल)  भरें। अब आपको उस तिथि को चलने वाली सारी ट्रेनों  का लिस्ट मिलेगा उसमें से आप जिस ट्रेन पर जाना चाहते हैं उसे सेलेक्ट करें और श्रेणी चुनें। अब आपको उपलब्ध सीटों की संख्या की जानकारी दी जाएगी, उस संख्या पर क्लिक करके यात्रियों का विवरण और अन्य चीजों को भरें।

उसके बाद आपको पैसे भुगतान का विकल्प दिया जायेगा। अब आप उचित विकल्प चुनकर पैसे का भुगतान कर दें। अगर आपके पास सिर्फ एटीएम कार्ड हैं तो आपको पैसे भुगतान के लिए एटीएम कार्ड नंबर और कोड डालना पड़ेगा। सभी भुगतान का तरीका पूरी तरह सुरक्षित हैं। भुगतान होने के बाद आपका टिकट बुक हो जायेगा।

आप चाहें तो किसी भी समय टिकट का प्रिंट निकाल सकते हैं। बुकिंग की जानकारी आपको sms के द्वारा भी प्राप्त होगा। उस sms को आप टिकट  के तरह उपयोग कर सकते हैं। आप इसी वेबसाइट पर टिकट रद्द कर सकते हैं और पैसा खुद ही आपके अकाउंट में आ जायेगा। अगर टिकट बनाने के समय पैसे का भुगतान हो गया हो और किसी कारणवश टिकट ना बन सका हो तो भी भुगतान की गई राशि वापस आपके अकाउंट में आ जायेगा।

सामान्य कोटा के टिकट का रिजर्वेशन यात्रा के 60 दिन पहले 8 बजे से चालू होता हैं और तत्काल कोटा के टिकट का रिजर्वेशन यात्रा के एक दिन पहले 10 बजे से चालू होता हैं।

2 Comments

  1. प्रेम

    ज्ञानवर्धक| मेरा सुझाव है कि यात्रा व यात्रियों के विवरण को भली भांति देखें व कोई त्रुटि होने पर उसे ठीक करने के उपरांत ही पैसों का भुगतान करें| मेरे स्वयं के अभ्यास के अनुसार मैं चेतावनी दूंगा कि कभी कभी ऑनलाइन टिकट लेने के लिए एक से अधिक प्रयास करने होते है| देखा गया है कि इस बीच पैसों का भुगतान हो चुका होता है| संतोषजनक बात यह है कि डेबिट कार्ड द्वारा भुगताई अतिरिक्त राशि बैंक में लौटा दी जाती है|

  2. ramesh malotiya

    हिन्दी भाषा वाले के लिये अच्छी।

Leave a Reply