कपूर के फायदे

कपूर में कई औषधीय गुण पाया जाता है। कपूर या कपूर के तेल का प्रयोग त्वचा में खुजली, जलन, चकत्ते, मुँहासे, एक्जिमा, फंगल और बैक्टीरियल संक्रमण, बाल संबंधी समस्याओं, खाँसी और सर्दी जैसे कई बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है। कपूर में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीसेप्टिक, एंटी इंफ्लामेटरी, कीटाणुनाशक और एनेस्थेटिक गुण पाया जाता है। कपूर हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है।

कपूर के लाभ –

  • कपूर में एंटी इंफ्लामेटरी गुण होता है जो सूजन, गठिया और मांसपेशियों में दर्द को कम करने में मदद करता है। गठिया और मांसपेशियों में दर्द होने पर कपूर के तेल से मालिश करें।
  • कपूर त्वचा संबंधी समस्याओं के उपचार में मदद करता है। त्वचा में खुजली, चकत्ते और जलन को कम करने के लिए कपूर में थोड़ा सा पानी मिलाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  • कपूर में मौजूद एंटीस्पैज़्माडिक गुण ऐंठन, जोड़ों के दर्द और शरीर में दर्द को कम करने में मदद करता है।
  • कपूर मुँहासे के उपचार के लिए एक अच्छा उपाय है। यह लालिमा और जलन को कम करता है। कपूर का तेल मुँहासे और मुँहासे के निशान को कम करने में मदद करता है।
  • कपूर फटी एड़ियों के इलाज के लिए एक कारगर उपाय है। पानी और कपूर के मिश्रण में अपने पैरों को कुछ मिनट के लिए डुबोकर रखें और बाद में पैरों को स्क्रब करके धो लें। फिर अपने पैरों में पेट्रोलियम जेली लगा लें।
  • जलने या कटने पर कपूर में थोड़ा सा पानी मिलाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से जलन खत्म होती है। यह कटने या जलने से हुए निशान को कम करने में मदद करता है।
  • कपूर कीड़े के काटने और घावों की वजह से होने वाले दर्द को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • कपूर बालों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। कपूर का तेल बालों की जड़ों को मज़बूत करने के साथ ही बालों को चमकदार बनाता है। कपूर के तेल में अंडा या दही मिलाकर इस्तेमाल कर सकते है।
  • कपूर के तेल से अपने सिर और बालों की मालिश करने से बालों के झड़ने की समस्या कम हो जाती है।
  • बच्चों को सर्दी होने पर सरसों या नारियल के तेल में कपूर मिलाकर गर्म कर लें। फिर इस गुनगुने तेल से बच्चे के छाती और पीठ पर मालिश करें।

Leave a Reply