रेलगाड़ी (ट्रेन) पर निबंध

भारतीय रेलवे भारत के यातायात का एक प्रमुख साधन है। रेलगाड़ी के कारण भारत का विकास बहुत तेजी से हुआ। ट्रेन के कारण ही बहुत सारे लोग एक साथ बहुत लंबी-लंबी दूरियां तय कर सकते हैं। इसका किराया भी कम होता है। ट्रेन में एक विशाल इंजन लगा हुआ रहता है जो काफी शक्तिशाली होता है। ट्रेन बहुत सारे डिब्बों को एक साथ खींच सकता है और वह काफी तेज चल सकता है।

ट्रेन का इस्तेमाल सिर्फ यात्रियों के आवागमन के लिए ही नहीं बल्कि भारी-भारी सामानों को ढोने के लिए भी किया जाता है। सामान ढोने वाली ट्रेन को मालगाड़ी कहा जाता है। ट्रेन में लोग आराम से सफर कर सकते हैं। इसमें एसी बोगीयां भी होती है जिसमें लोगों को गर्मी का सामना नहीं करना पड़ता है। रेलगाड़ी की वजह से ही लोग सोए-सोए काफी लंबी दूरी तय कर सकते हैं।

पहले पुराने जमाने में जहां एक जगह से दूसरी जगह जाने में हफ्ते लग जाते थे। अब वह दूरियां ट्रेन की वजह से कुछ घंटों में तय कर सकते हैं। रेलगाड़ी के कारण ही भारत के बहुत सारे शहर और गांव एक दूसरे से जुड़ पाए। अब कोई भी सामान कहीं भी उत्पादन किया जा सकता है और उसका वितरण ट्रेन के द्वारा भारत के किसी भी जगह आसानी से किया जा सकता है। ट्रेन की वजह से ही लोग अब अपने घर से काफी दूर जाकर नौकरी भी कर सकते हैं।

भारत की तरक्की में ट्रेन का एक महत्वपूर्ण योगदान है। भारत में ट्रेन के कई प्रकार है कुछ ट्रेनें काफी लंबी दूरियां तय करती है तो कुछ लोकल ट्रेनें होती है। मुंबई में लोकल ट्रेन वहां के लोगों के लिए तो जैसे लाइफ लाइन ही है। अब तो मेट्रो ट्रेन भी बनने लगी है जो जमीन के अंदर ही अंदर चल सकती है। धीरे-धीरे ट्रेन का काफी विकास हो रहा है। लोगों को भी इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि ट्रेन में गंदगी नहीं फैलाएं ताकि दूसरे यात्रियों को असुविधा नहीं हो सके।

(word count: 330)

3 Comments

Leave a Reply