लू से बचने के घरेलू उपाय

March 12, 2016


गर्मी के मौसम में गर्म हवा और तापमान बढ़ने के कारण लू लगने का खतरा बढ़ जाता है। लू लगने का सबसे बड़ा कारण शरीर में पानी और नमक की कमी है। गर्मी के दिनों में शरीर से बहुत अधिक पसीना निकलता है, पसीने के रूप में शरीर से तरल पदार्थ की बड़ी मात्रा बाहर निकल जाती है। जिससे शरीर में पानी और नमक की कमी हो जाती है। लू लगने पर शरीर का तापमान बढ़ने के साथ-साथ बुखार, सिरदर्द, चक्कर आना, थकान, कमजोरी, साँस लेने में तकलीफ और शरीर में ऐंठन होने लगता है। लू से बचने के लिए आप घरेलू नुस्खे का उपयोग कर सकते है।

लू लगने पर घरेलू उपचार –

  • प्याज लू के इलाज के लिए सबसे अच्छा उपचार में से एक है। प्याज के रस को अपने कान के पीछे और छाती पर लगाएं। यह आपके शरीर के तापमान को कम करने में मदद करता है। आप खाने में कच्चे प्याज का सलाद बनाकर खा सकते है।
  • इमली लू के कारण होने वाले बुखार को ठीक करने में मदद करता है। एक कप पानी उबाल लें और उसमें थोड़ा इमली डालकर कुछ समय के लिए छोड़ दें। उसके बाद उसे हाथ से मसलकर छान लें और फिर इस इमली के रस में अपने स्वाद के अनुसार चीनी मिलाकर पीयें।
  • ताजा धनिया या पुदीना के पत्तों के रस में थोड़ा सी चीनी मिलाकर दिन में दो बार पीयें। इसके आलावा धनिया और पुदीना के पत्तियों का चटनी बनाकर सेवन करें। यह आपके शरीर के तापमान को कम करने में मदद करता है।
  • कच्चा आम हीट स्ट्रोक के इलाज के लिए एक कारगर उपाय है। कच्चे आम को उबाल लें और फिर ठंडे पानी में भिगोकर रखें। उसके बाद कच्चे आम के गूदे में जीरा, नमक, गुड़, काली मिर्च और धनिया पाउडर मिलाकर पानी में घोल लें। इस शर्बत को हीट स्ट्रोक के लक्षण से बचने के लिए दिन में 3-4 बार सेवन करें।
  • गर्मियों के दौरान नियमित रूप से तरबूज, खीरा या ककड़ी का सेवन हीट स्ट्रोक को रोकने में मदद करता है।
  • छाछ शरीर में बढ़ती गर्मी को कम करने में मदद करता है। छाछ में थोड़ा सा नमक मिलाकर दिन में तीन से चार बार पीयें।
  • तुलसी के पत्तों के रस में थोड़ी सी चीनी मिलाकर सेवन करें। यह लू के इलाज के लिए एक अच्छा घरेलू उपाय है।
  • लू से बचने के लिए नारियल पानी, ग्लूकोज पानी और बेल या नींबू का शर्बत पीते रहना चाहिए।
  • लू को ठीक करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। आप अपने शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेट रखें। इसके लिए आप दिन भर पानी और फलों के रस का खूब सेवन करें।

श्रेणि: स्वास्थ्य (Health)

कमेंट लिखें

Back to Top