मलेरिया के कारण और लक्षण

मलेरिया के कारण –

मलेरिया प्लाज्मोडियम नामक एक छोटे परजीवी के कारण होता है। इस परजीवी का वाहक मादा एनोफ़िलीज़ मच्छर है। मादा एनोफिलिज मच्छर के काटने से यह परजीवी शरीर में पहुंच जाते है और कुछ ही दिनों में रोगी के लिवर में बढ़ने लगता है। फिर यह खून में प्रवेश कर लाल रक्त कोशिकाओं को नुकसान पहुँचाता है। आखिरकार संक्रमित लाल रक्त कोशिका टूटने लगता है। यह पूरे शरीर में परजीवी भेजता है और मलेरिया के लक्षण का कारण बनता है। अगर गर्भवती महिला को मलेरिया हो तो उनके बच्चे को भी मलेरिया हो सकता है।

मलेरिया के लक्षण –

मलेरिया का सबसे आम लक्षण तेज बुखार है। बुखार होने पर रोगी को सिरदर्द, कंपकपाहट और बहुत ठण्ड लगने लगता है। रोगी के शरीर का तापमान 101 से 105 डिग्री फॉरेनहाइट तक बना रह सकता है। रोगियों के शरीर का तापमान अत्यधिक पसीना के साथ कुछ समय के बाद नीचे आ जाता है।

  • शरीर में ठंड लगना
  • सिरदर्द
  • तेज बुखार
  • कमजोरी
  • उल्टी
  • जी मिचलाना
  • चक्कर आना
  • ऐंठन
  • अत्यधिक थकान
  • खून की कमी
  • साँस लेने में तकलीफ़
  • मांसपेशियों में दर्द
  • भूख न लगना

Leave a Reply